आरजीएनएफ  – Rajeev Gandhi National Fellowship Scheme

आरजीएनएफ (Rajeev Gandhi National Fellowship scheme), जैसा कि हम जानते हैं कि राजीव गांधी नेशनल फेलोशिप एक सरकारी फेलोशिप है जिसमें अनुसूचित जाति (एससी) और अनुसूचित जनजाति (एसटी) के योग्य उम्मीदवारों को पुरस्कृत किया जाता है। अभी जल्दी ही फेलोशिप को दो भागों में अर्थात एससी छात्रों के लिए नेशनल फेलोशिप और एसटी छात्रों की उच्च शिक्षा के लिए नेशनल फेलोशिप में विभाजित किया गया है। यहाँ पर एससी छात्रों के लिए नेशनल फेलोशिप को सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय द्वारा तैयार और वित्त पोषित किया गया है, जबकि बाद में एसटी छात्रों के लिए इसे जनजातीय मामलों के मंत्रालय द्वारा कार्यान्वित और वित्त पोषित किया गया है। इन दोनों फेलोशिप के बारे में, पहले इसे आरजीएनएफ या राजीव गांधी फेलोशिप के रूप में जाना जाता था, इसमें एससी और एसटी छात्रों को विज्ञान, मानविकी, सामाजिक विज्ञान और इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में एमफील और पीएचडी डिग्री जैसे उच्च अध्ययन को करने के लिए आर्थिक मदद प्रदान की जाती है। हर साल 2,000 एससी और 750 एसटी उम्मीदवारों को अन्य लाभों के साथ 28,000 रुपये हर महीने की दर से राजीव गांधी फेलोशिप का लाभ उठाने का अवसर प्राप्त होता है।

इस लेख में, हमने आरजीएनएफ के अंतर्गत दोनों फेलोशिप को शामिल किया है। आप सभी जानकारियां जैसे पुरस्कार, एप्लीकेशन प्रक्रिया के लिए योग्यता और इन फेलोशिप से सम्बंधित कई अन्य विवरण प्राप्त कर सकते हैं। नीचे दी गयी तालिका में राजीव गांधी फेलोशिप के संक्षिप्त विवरण को देख सकते हैं, जिसे ऊपर बताए गए अनुसार अब दो फेलोशिप में विभाजित किया गया है।

आरजीएनएफ – Overview

क्र.सं. ब्यौरा               विवरण
1 फेलोशिप ·         एससी छात्रों के लिए नेशनल फेलोशिप

·         एसटी छात्रों की उच्च शिक्षा के लिए नेशनल फेलोशिप

2 पुरस्कार ·         शारीरिक रूप से विकलांग और नेत्रहीन उम्मीदवारों के लिए आकस्मिक अनुदान, एचआरए और एस्कॉर्ट्स / रीडर भत्ता के साथ हर महीने 28,000 रुपये तक की फेलोशिप राशि
3 योग्यता ·         उम्मीदवारों को एससी और एसटी वर्ग से संबंधित होना चाहिए और पोस्टग्रेजुएशन पास किया होना चाहिए।

·         उम्मीदवारों को फुल टाइम रेगुलर छात्र के रूप में एम फील / पीएचडी पाठ्यक्रम में रजिस्टर होना चाहिए।

4 एप्लीकेशन प्रक्रिया ·         यूजीसी की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से

अब जब आप आरजीएनएफ के मुख्य जानकारियों को जान जाते हैं, तो एससी और एसटी उम्मीदवारों को दिए जानें वाले दोनों नेशनल फेलोशिप के पूर्ण विवरण के बारे में नीचे जानकारी प्राप्त करें।

आरजीएनएफपुरस्कार (Awards)

एससी छात्रों के लिए नेशनल फेलोशिप और एसटी छात्रों की उच्च शिक्षा के लिए नेशनल फेलोशिप, जिसे पहले हम आरजीएनएफ के रूप में जानते थे जिसका उद्देश्य इन श्रेणियों के कम साक्षरता स्तर में सुधार के लिए एससी और एसटी छात्रों को उच्च स्तर की पढाई करने के लिए प्रोत्साहित करना है। इन फेलोशिप के तहत, चयनित छात्रों को एमफिल / पीएचडी डिग्री कोर्स की पढाई करने के लिए सरकार द्वारा आर्थिक मदद प्रदान की जाती है। फेलोशिप का भुगतान डीबीटी (डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर) प्लेटफॉर्म के माध्यम से सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में भेजा जाता है। नीचे दी गई तालिका में फेलोशिप की राशि की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

आरजीएनएफ का पुरस्कार विवरण

क्र.सं. ब्यौरा               विवरण
1 फेलोशिप राशि ·         जेआरएफ (जूनियर रिसर्च फेलो) के रूप में रजिस्टर किये गए उम्मीदवारों को शुरुआती दो वर्षों के लिए हर महीने 25,000 रुपये की फ़ेलोशिप राशि दी जाती है।

·         शेष तीन वर्षों के लिए, एसआरएफ (सीनियर रिसर्च फेलो) के रूप में पदोन्नत किए गए उम्मीदवारों को हर महीने 28,000 रुपये की फ़ेलोशिप राशि दी जाती है।

2 मानविकी और सामाजिक विज्ञान के लिए आकस्मिक अनुदान ·         शुरूआती दो वर्षों के लिए 10,000 रुपये की वार्षिक राशि

·         शेष कार्यकाल के लिए 20,500 रुपये की वार्षिक राशि

3 विज्ञान, इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी के लिए आकस्मिक अनुदान ·         शुरूआती दो वर्षों के लिए 12,000 रुपये हर साल

·         शेष तीन वर्षों के लिए 25,000 रुपये हर साल

4 विकलांग और नेत्रहीन उम्मीदवारों को एस्कॉर्ट्स / रीडर सहायता ·         2,000 रुपये हर महीने
5 एचआरए (हाउस रेंट अलाउंस) ·         विश्वविद्यालय / संस्थानों / कालेजों के नियमों के अनुसार

RGNF - Rajiv Gandhi National Fellowship Awards

आरजीएनएफयोग्यता मानदंड (Eligibility Criteria)

एससी छात्रों के लिए नेशनल फेलोशिप और एसटी छात्रों की उच्च शिक्षा के लिए नेशनल फेलोशिप, जिसे पहले राजीव गांधी फेलोशिप या आरजीएनएफ के रूप में जाना जाता था, एससी और एसटी श्रेणी के छात्रों को दिया जाता है। पहले से ही जाना जाने वाला राजीव गांधी फेलोशिप उन एससी / एसटी उम्मीदवारों को दिया जाता है जो बिना नेट जेआरएफ के फुल टाइम रिसर्च करना चाहते हैं। आरजीएनएफ के लिए योग्य होने के लिए उम्मीदवार को नीचे दी गयी शर्तों को जरूर पूरा करना होगा।

  • इन फेलोशिप का लाभ चाहने वाले उम्मीदवारों को एससी और एसटी श्रेणियों से संबंधित होना चाहिए।
  • आवेदकों को दोनों फेलोशिप के लिए योग्य होने के लिए स्नातकोत्तर की डिग्री प्राप्त करनी चाहिए।
  • आवेदकों को यूजीसी अधिनियम / आईसीएआर की धारा 2 (एफ) के तहत यूजीसी द्वारा मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय / संस्थान / कॉलेजों में नियमित छात्र के रूप में एमफिल / पीएचडी पाठ्यक्रम में रजिस्टर होना चाहिए।
  • ट्रांसजेंडर श्रेणी से संबंधित उम्मीदवार भी पूर्व में राजीव गांधी फेलोशिप के नाम के तहत दी जानें वाली फेलोशिप के लिए योग्य हैं।

आरजीएनएफएप्लीकेशन प्रक्रिया (Application Process)

आवेदकों के लिए एप्लीकेशन प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए यूजीसी, उम्मीदवारों को यूजीसी की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से दोनों फेलोशिप के लिए ऑनलाइन अप्लाई करने की अनुमति देता है। जैसा कि हमने पहले ही लेख में बताया है, कि पूर्व में ज्ञात राजीव गांधी फेलोशिप को एससी और एसटी उम्मीदवारों के लिए दो अलग-अलग फेलोशिप में विभाजित किया गया है, इसलिए आवेदकों को उस फेलोशिप के लिए अप्लाई करने की जरुरत होती है जिसके लिए वे योग्य हैं। नीचे दी गयी एप्लीकेशन गाइडलाइन दोनों नेशनल फेलोशिप के लिए समान है।

  • सबसे पहले, आवेदक को यूजीसी के ई-एसएआरटीएस पेज पर जाने की जरुरत होती है जहां पर यूजीसी की सभी स्कॉलरशिप और फेलोशिप के बारे में बताया गया है और अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए नेशनल फेलोशिप या एसटी छात्रों की उच्च शिक्षा के लिए नेशनल फेलोशिप को ढूंढने के लिए नीचे स्क्रॉल करें।
  • मनचाहे फेलोशिप के लिए ‘सी डिटेल्स इन्फो’ बटन पर क्लिक करें जो आवेदक को चयनित आरजीएनएफ फेलोशिप के मुख्य पेज पर ले जाता है।
  • उम्मीदवार को एप्लीकेशन फॉर्म को खोलने के लिए ‘अप्लाई नाउ’ बटन पर क्लिक करना होगा।
  • सभी आवश्यक जानकारी को निर्देशानुसार भरें और आवश्यक डॉक्यूमेंट को अपलोड करें।
  • अंत में, आवेदक को यह सुनिश्चित करने के बाद फॉर्म को जमा करना होगा कि फॉर्म में भरे गए सभी विवरण सही हैं।

नोट: फेलोशिप का लाभ पाने के लिए योग्य होने के लिए, उम्मीदवारों को रेगुलर और फुल टाइम एमफिल / पीएचडी डिग्री के लिए विश्वविद्यालय / संस्थान / कॉलेज में  रजिस्टर होना चाहिए और अन्य पात्रता शर्तों को पूरा करना चाहिए।

आरजीएनएफमुख्य डॉक्यूमेंट (Checklist of Documents)

नेशनल फेलोशिप के लिए अप्लाई करते समय, जिसे पहले राजीव गांधी फेलोशिप के नाम से जाना जाता था, आवेदकों को अपने साथ कुछ महत्वपूर्ण डॉक्यूमेंट की स्कैन की हुई प्रतियां रखनी चाहिए। आरजीएनएफ के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट की सूची नीचे दी गई है।

  • सक्षम अधिकारी द्वारा जारी आवेदक का जाति प्रमाण पत्र (केवल पीडीएफ, जेपीजी, जीआईएफ फॉर्मेट)
  • यदि आवश्यक हो तो विशिष्ट विकलांगता प्रमाणपत्र
  • पीडीएफ / जेपीजी / जीआईएफ फॉर्मेट में स्नातकोत्तर की मार्क शीट
  • विभाग / संस्थान के प्रमुख से यह कहते हुए प्रमाणपत्र कि यदि उम्मीदवार इस फेलोशिप के लिए चयनित हो जाते हैं तो कॉलेज / विश्वविद्यालय / संस्थान द्वारा आवश्यक सुविधाएं दी जाएंगी

आरजीएनएफसंपर्क विवरण (Contact Details)

पहले से ही जानें जाने वाले राजीव गांधी फेलोशिप के बारे में कोई भी प्रश्न होने पर उम्मीदवार नीचे दिए गए ईमेल आईडी पर अपने प्रश्न को भेज सकता है:

ईमेल आईडी – sosa3ugc@gmail.com

यदि आप विशेष रूप से एससी / एसटी केटेगरी के छात्रों के लिए स्कॉलरशिप के बारे में और अधिक जानना चाहते हैं, तो ‘एससी स्कॉलरशिप  – आल यू नीड टु नो’ और ‘एसटी स्कॉलरशिप – आल यू नीड टु नो’ को पढ़ें।

यह भी पढ़ें : PM Yuva Yojana for Writers – Eligibility, Key Dates, Online Application Process